tt7c News UP Election

पंजाब में आम आदमी पार्टी आगे है। सटोरियों का दावा है कि मतगणना 11 मार्च को है। इसलिए 10 मार्च की रात तक भावों में थोड़ा फेरबदल होता रहेगा।

लखनऊ :  देश में पांच राज्यों में मतदान के बाद ‘एग्जिट पोल’ का बाजार गर्म है। इसी के साथ गर्म है सट्टा बाजार का भाव तो यहां भी भाजपा और मोदी की जय-जय होती दिख रही है। बात करे उत्तर प्रदेश की। यहां सबसे ज्यादा सट्टा भी उत्तर प्रदेश चुनाव परिणाम पर ही लग रहा है। पंजाब, गोवा व  उत्तराखंड जैसे राज्यों के भी भाव खुले जरूर हैं, लेकिन सट्टा लगाने वाले कुछ खास नहीं हैं. मणिपुर का तो भाव ही नहीं खुला है। माना जा रहा है कि शुरुआती चरणों में भाजपा पिछड़ती दिख रही थी वहीं अंतिम चरण आते-आते एक नंबर की पार्टी बनती दिख रही है।

मोदी के प्रचार ने बदली यूपी की तस्वीर

देश का कामकाज छोड़ तीन दिन तक वाराणसी में चुनाव प्रचार करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भले ही विरोधियों के निशाने पर हों, लेकिन सटोरियों की मानें तो उनके इस धुंआधार प्रचार से उत्तर प्रदेश चुनाव की तस्वीर बदल गई है। शुरुआती दौर में दूसरे नंबर पर दिख रही बीजेपी 8 मार्च को आखिरी चरण का मतदान पूरा होते ही नंबर एक पर नजर आने लगी है। हालांकि बीजेपी को कुल कितनी सीटें मिलेंगी और बहुमत मिलेगा या नहीं, इसे लेकर सट्टा बाजार भी दुविधा में है. इसलिए अलग-अलग सीटों के लिए अलग-अलग भाव खुला है।

बीजेपी का भाव 160 सीट से खुला 

कुल 403 विधानसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में बहुमत के लिए 202 सीटों की दरकार है. सटोरियों ने इसके लिए बीजेपी का भाव 160 सीट से खोला है जो 22 पैसे है. इसी  तरह 170 सीट पर 42 पैसे, 180 सीट पर 80 पैसे, 190 सीट पर एक रुपया और 200 सीट पर एक रुपया 80 पैसे का भाव है. मतलब साफ है कि सटोरिये भले मान रहे हैं कि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी लेकिन बहुमत के लिए जरूरी 202 सीटें ला पाएगी इसकी उम्मीद कम ही है।

सपा-कांग्रेस गठबंधन का भाव 130 सीट से खुला

समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का भाव 130 सीट से खुला है, जबकि अखिलेश यादव और राहुल गांधी ने जब हाथ मिलाया था तो सपा और कांग्रेस का भाव 220 सीट से खुला था। सपा और कांग्रेस गठजोड़ की 130 सीटों पर भाव 42 पैसे है, 140 सीट पर 80 पैसे, 150 सीट पर 90 पैसे और 160 सीट पर 2.50 रुपये है। यानी सटोरियों की नजर में सपा और कांग्रेस 150 सीट से आगे बढ़ते नहीं दिख रहे।

60 सीट से आगे नहीं बढ़ पायेगी बसपा 

बसपा की हालत तो इनके हिसाब से और भी खस्ता है। सटोरियों को नहीं लगता कि बसपा 60 सीट से आगे बढ़ पाएगी। 60 सीटों पर भी उसका भाव 2.50 रुपये खुला है जो बहुत ज्यादा है। सट्टा बाजार में जिसका भाव ज्यादा होता है उसके हारने की उम्मीद उतनी ही ज्यादा होती है।सट्टा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के अलावा पंजाब, उत्तराखंड और गोवा विधानसभा चुनाव पर भी लगा है. बीजेपी उत्तर प्रदेश के साथ गोवा और उत्तराखंड में भी आगे दिख रही है, जबकि पंजाब में आम आदमी पार्टी आगे है। सटोरियों का दावा है कि मतगणना 11 मार्च को है। इसलिए 10 मार्च की रात तक भावों में थोड़ा फेरबदल होता रहेगा।

Advertisements